Advertisement

50 SUCH BENEFITS OF TULSI THAT YOU WILL BE STUNNED TO KNOW

तुलसी के फायदे Tulsi benefits in Hindi

क्या आप को पता है तुलसी के फायदे किया किया है, अगर हां तो अच्छी बात है, और अगर आपका जवाब नहीं में है, तो आज हम तुलसी के फायदे के बारे में बात करेंगे, और आप को बताएंगे तुलसी के फायदे और नुकसान के बारे में.

Tulsi का उपयोग हमारे पूर्वज कई सालों से करते आए है. और आगे भी हम तुलसी का उपयोग जरूर करेंगे. कियुंकी जब आपको तुलसी के फायदे के बारे में पता चलेगा, तो आप इसका उपयोग किए बिना रह नहीं पाएंगे.

Tulsi को औषधियों की रानी कहते हैं. इसके पत्तों और फूलों में कई रासायनिक तत्व पाए जाते हैं, जो अनेक रोगों में राहत पहुंचाते हैं. मौसम में बदलाव होने के कारण तबीयत खराब होने पर दवा लेने से बुखार तो कम हो जाता है लेकिन खांसी और कफ लंबे समय तक बना रहता है. ऐसे में तुलसी के घरेलू नुस्खे से तुरंत आराम मिलता है.

बारिश के मौसम में अगर आप Tulsi का सेवन रोजाना करते हैं. तो आप मौसमी बुखार जैसी समस्याओं से निजात पा सकत है.

स्किन इन्फेक्शन

अगर आपको किसी तरह का स्किन इन्फेक्शन है तो बेसन के साथ तुलसी पत्तियों का पेस्ट बनाकर स्किन पर लगाएं, इससे आपको बहुत लाभ होगा.

Tulsi के सेवन से पेशाब खुलकर आता है, जिसे किडनी को साफ करने में भी मदद मिलती है. अगर किडनी में छोटी पथरी है तो तुलसी के रस को शहद में मिलाकर रोज चार-पांच महीने तक लेने से पेशाब के रास्ते से पथरी निकल जाएगी.

ताजा Tulsi की पत्तियों को सुबह रोज निगलने से प्रतिरोधी तंत्र मजबूत होता है और हम जल्द बीमार नहीं पड़ते. पेट रोग खत्म होता है.

यह नेचुरल माउथ फ्रेशनर है. Tulsi के पत्तों को उबाल लें और उससे कुल्ला करें मुंह की दुर्गंध हमेशा के लिए खत्म हो जाएगी.

जुकाम और सर्दी में दे राहत
वैसे तो सर्दी जुकाम बहुत आम बीमारी है, लेकिन इससे लोगों को अक्सर काफी परेशानी हो जाती है। तुलसी इंसान को सर्दी और जुकाम में भी राहत प्रदान करने का काम करती है। एंटीस्पास्मोडिक प्रभाव वाली तुलसी सर्दी और जुकाम से परेशान लोगों की मदद करती है। वहीं इसके सेवन से बुखार में भी राहत मिल सकती है।

पिंपल्स को करे खत्म
लड़कियों में पिंपल्स की बहुत ज्यादा परेशानी होती है और वह इससे अक्सर राहत चाहती हैं और कई तरह के उपाए करती रहती हैं। अगर आप भी पिंपल्स से परेशान हैं तो आप तुलसी के पत्तों और संतरे के छिलकों का पाउडर लें और उसमें गुलाब जल मिलाकर पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को करीब 15 मिनट के लिए चेहरे लगा रहने दें और उसके बाद धो लें। इसके अलावा आप तुलसी के पत्तों का रस और चंदन पाउडर से पेस्ट बनाकर उसे भी चेहरे पर लगा सकती हैं।

स्ट्रेस करे दूर
भागदौड़ भरी इस जिंदगी में कुछ लोग मानसिक परेशानियों से जूझ रहे होते हैं और उनमें स्ट्रेस रहने लगता है। कई बार जब दवाई से फायदा नहीं होता है तो कुछ घरेलू नुस्खे अपनाए जाते हैं। तुलसी के पत्तों में एंटी- स्ट्रेस एजेंट होते हैं जो कि इंसान के शरीर में मानसिक परेशानी और तनाव को ठीक करते हैं। इसी के साथ तुलसी के सेवन से स्ट्रेस की वजह से पैदा होने वाले नाकारात्मक विचारों से मुकाबले करने में भी मदद मिलती है।

कैंसर से लड़ने में मददगार
कैंसर बहुत ज्यादा खतरनाक बीमारी है, लेकिन इसका इलाज भी आयुर्वेद में मौजूद है। हमारे घर में मौजूद तुलसी का पौधा इस बीमारी से लड़ने में मदद करता है। तुलसी में यूजेनॉल कंपाउंड पाया जाता है जो कि इंसान के शरीर में कैंसर से लड़ने में मददगार साबित होता है। कई रिसर्च में भी पाया गया है कि तुलसी कैंसर से लड़ने में मददगार रहती है। वहीं, जो लोग नियमित रूप से तुलसी का सेवन करते हैं तो उन्हें कैंसर होने की संभावना बहुत कम होती है।


Post a comment

0 Comments