Advertisement

MIGRAINE TREATMENT

माइग्रेन ट्रीटमेंट हिंदी में – आज हम लोग इसी के बारे में बात करेंगे कि माइग्रेन का दर्द से कोई लोग समझ नहीं सकते हैं जिन्होंने कभी इसका सामना किया हो माइग्रेन एक गंभीर बीमारी है; ज्यादातर सबको सर दर्द से समस्या होती है लेकिन यह जब बढ़ जाता है तो माइग्रेन का रूप ले लेती है; जिस कारण सर में बहुत अधिक दर्द होता है, कभी-कभी दर्द इतना तेज हो जाता है कि उसे फेफाना भी बहुत मुश्किल होता है, माइग्रेन को गंभीर सर दर्द या सर का फटना इस रूप में परिभाषित किया जा सकता है।

माइग्रेन का इलाज, कारण, लक्षण –

माइग्रेन अटैक – माइग्रेन अटैक उसे कहते हैं जो हमारे सर में अचानक दाएं या बाएं सर दर्द बहुत ज्यादा बढ़ जाता है और हमारा वह तनाव हमारी सहनशीलता के बाहर होता है जोकि पुरुषों के मुताबिक महिलाओं में ज्यादा देखा गया है इसरो का बड़ा समस्या यही है कि इसमें सर में अचानक से काफी दर्द होने लगता है आइए जानते हैं कारण, लक्षण और इसके घरेलू उपाय |

माइग्रेन का कारण –

माइग्रेन के समान तो बहुत से कारण हैं लेकिन माइग्रेन ज्यादा मांसपेशियों या रक्त वाहिकाओं के तनाव से होता है जोकि अधिक शराब, धूम्रपान, और हमेशा तनाव में रहना जोकि हमारे स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक है हमारी यह बीमारी तब और बढ़ जाती है जब हम ज्यादा समय फोन की स्क्रीन में काम करना या लैपटॉप टीवी इत्यादि में अपना समय ज्यादा देना यह हमारी आंखों और सर दर्द का कारण भी बनता है जो हमारे लिए हानिकारक है |

माइग्रेन के लक्षण –

  • नींद सही से आना
  • दिनभर बेवजह उबासी आना
  • बिना वजह तनाव
  • ह्रदय तेजी से धड़कना
  • गंभीर सर का दर्द
  • थकान और परेशानी महसूस होती है
  • चक्कर आना
  • प्रकाश, शोर और गंध के प्रति संवेदनशीलता।
  • भूख की कमी
  • आँखों से धुंधला दिखना
  • बुखार

माइग्रेन का घरेलू इलाज

  • रोजाना सुबह के समय योगा करना
  • रोज कम से कम 10 से 12 बदम ओम का सेवन करना यह हमारे दिमाग की शक्ति को बढ़ाता है|
  • बंद गोभी को पीसकर इस पेस्ट को एक साफ सूती कपडे में ठीक ढंग से माथे में बांधें; और जब पेस्ट सूख जाए तो नया पेस्ट बनाकरकर पट्टी बांधें। इससे आपको सरदेश मैं आराम मिलेगा|
  • आप निट्स के टेस्ट का भी इस्तेमाल कर सकते हैं आप नींबू के छिलके उसका पेस्ट बना कर सर में बांधे।
  • आप खाने में हरी सब्जियां और फलों का अत्यधिक सेवन करें। जो आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा रहेगा |

माइग्रेन को कैसे रोका जा सकता है ?

  • आपको एक अच्छी नींद हमेशा लेनी है कम से कम 7 से 8 घंटे की
  • रोज सुबह योगा करें
  • बाहर वा  तेल से बनी चीजों का सेवन कम करें
  •  शराब का सेवन ना करें 
  • रोजाना 6-7 गिलास पानी का सेवन करें

माइग्रेन को दूर करने के लिए योगासन

  1. सेतुबन्धासन- इस आसन के अभ्यास से आप चिंता मुक्त और आपके  दिमाग को शांति मिलेगी ।
  2. हस्त-पादासन- यह हमारी नाड़ी तंत्र में रक्त की आपूर्ति अधिक होती है जिससे मैं प्रबल और हमारे दिमाग को शांत रखने में  बहुत मदद करता है ।
  3. सेतुबन्धासन- इस आसन भी हमारे दिमाग को शांत रखता है और इससे व्यक्ति तनाव मुक्त रहता है ।
  4. शिशु-आसन – शासन से हमारी नाड़ी  तंत्र की  आशिथिल को   शिथिलकरता है   इससे हमारा सर दर्द कम होता है ;
  5. मर्जरासन – इसको करने से हमारा रक्त संचार बढ़ता है जिससे हमारा मन भी शांत रहता है ।
  6. पश्चिमोतानासन – यह हमारा तनाव दूर करता है और इससे हमारे  सर दर्द में काफी हद तक आराम मिल पाता है ।
  7. अधोमुखश्वानासन – इससे हमारे रखो संसार में वृद्धि होती है जिससे हमारे सर दर्द में आराम या मुक्ति मिलती है ;
  8. पद्मासन – इस अवस्था में बैठने से हमारा मन काफी हद तक शांत हो जाता है जिससे हमारे सर दर्द  नए आराम मिलता है;
  9. शवासन – हमें अपने शरीर को गहन ध्यान के विश्राम की स्थिति में जाकर शरीर को शांति का संचार करता है इसे भी योगासन के अध्ययन के बाद करना चाहिए |

Post a comment

0 Comments